अपराधजमुईताजा ख़बरेंदेशपटनापूर्णियाबिहारब्रेकिंग न्यूज़मधेपुरामुजफ्फरपुरमोतिहारीराजनीतिराज्यवैशालीशिवहरसमस्तीपुरसीतामढ़ी

मुजफ्फरपुर जिले के मीनापुर में सड़कों पर टमाटर फेंककर किसानों का प्रदर्शन, लॉकडाउन में सही दाम नहीं मिलने से हैं नाराज

TEAM IBN MUZAFFARPUR – मुजफ्फरपुर जिले के मीनापुर प्रखंड में किसान अब सड़कों पर टमाटर फेंकने लगें हैं क्योंकि लाॅकडान के कारण टमाटर नेपाल जा नहीं रहा है. वहीं बिहार में विवाह और श्राद्ध कार्यक्रम में लोगों की निर्धारित संख्या के कारण सब्जी और सलाद में खपत हो नहीं रही है. वहीं लाॅकडान के कारण सब्जी का हाट बाजार सही से नहीं लग रहा है और हाट बाजार जहां लग रहा है, वहां कोरोना संक्रमण के कारण खरीददार नहीं आते. जिस कारण हाट में दुकानदार या तो सब्जियां छोड़ दे रहे हैं या फिर फेंक दे रहें हैं.

ताजा वीडियो मीनापुर प्रखंड के मझौलिया पंचायत के सामुदायिक भवन अस्तालकपुर  के पास का है जहाँ गंजबाजार से मुक़सूदपुर जाने वाली सड़क पर किसान राजेंद्र प्रसाद के नेतृत्व में दर्जनों किसानों ने टमाटर का कैरेट पलट कर टमाटर सड़क पर फ़ेंक रहे हैं. किसानों का कहना है कि लाॅकडान से पहले 1 कैरेट टमाटर जो 22 से 25 किलो आता है, उसका बाजार में किमत 300 से 400 रूपया था. अब लाॅकडान के कारण 20 से 25 रूपया आ रहा है जिसकारण किसान सड़क पर टमाटर फेंकने लगें हैं.

किसानों का कहना है कि लाॅकडान के कारण टमाटर उपजाने वाले किसानों को पौधा से टमाटर तोड़ने की मजदूरी भी ऊपर नहीं हो सकती है. फसल को नष्ट करने का भी पैसा नहीं है. बांकी जो थोक खरीददार खेतों से टमाटर खरीद ले गये उनके गाड़ी और ठेला का भाड़ा भी नहीं निकल रहा है. ग्रामीण हाट बाजार में तो लोग टमाटर का बोरा वैसे ही छोड़ कर घर जा रहें हैं. गौरतलब है कि मीनापुर प्रखंड में टमाटर व सब्जियों की खेती खूब होती है. लेकिन अब किसानों की नाराजगी के कारण प्रदर्शन का यह वीडियो लोग वायरल कर रहें हैं.

Related Articles

Back to top button
Close
INDEPENDENT BIHAR NEWS